Hamara Today
Hindi & Punjabi Newspaper

SBI ने अपने ग्राहकों को किया अलर्ट; गलती से भी न खोलें ये मेल

0

नई दिल्ली: अभी दो दिन पहले सरकार ने लोगों तथा व्यवसायों के खिलाफ बड़े पैमाने पर साइबर हमले की चेतावनी देते हुए कहा था कि साइबर हमलावर कोविड-19 की आड़ में निजी तथा आर्थिक जानकारी चुरा सकते हैं. इसी को लेकर अब भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने अपने ग्राहकों को संभावित साइबर हमलों के बारे में आगाह किया है. स्टेट बैंक ने रविवार को ट्वीट कर अपने कई शहरों के ग्राहकों को फर्जी ईमेल से बचने की सलाह दी है.

भारत सरकार ने कहा था कि ये हमले 21 जून, 2020 से शुरू हो सकते हैं और साइबर हमलावर सरकार के नाम वाली ईमेल आईडी का इस्तेमाल कर सकते हैं. इसी को ध्यान में रखते हुए SBI ने ट्वीट कर कहा, “हमारी जानकारी में आया कि भारत के कई प्रमुख शहरों में बड़ा साइबर अटैक होने वाला है. इसके चलते Free COVID-19 Testing के संबंध में ncov2019@gov.in ईमेल एड्रेस से आने वाले किसी भी ईमेल को क्लिक करने से बचें।

एसबीआई ने कहा, “हैकर्स ने 20 लाख भारतीयों के ईमेल एड्रेस हासिल कर लिए हैं. वे फ्री कोरोना टेस्ट के नाम पर इन लोगों को ईमेल भेजकर उनकी व्यक्तिगत और बैंक संबंधी जानकारी हासिल करने की कोशिश कर रहे हैं. दिल्ली, मुंबई, हैदराबाद, चेन्नई और अहमदाबाद के लोग इन हैकर्स के खास तौर पर निशाने पर हैं।

वहीं भारत सरकार के मुताबिक हमलावर ऐसे स्थानीय अधिकारी बनकर दुर्भावनापूर्ण ईमेल भेज सकते है जिन्हें सरकार द्वारा वित्तपोषित कोविड-19 समर्थित पहलों की सेवा देने का प्रभार दिया गया है. इंडियन कंप्यूटर इमर्जेंसी रिस्पांस टीम (सीईआरटी-इन) ने 19 जून के परामर्श में कहा, ‘‘इस तरह की ईमेल लोगों को फर्जी वेबसाइट पर ले जाते हैं जहां उन्हें निजी या वित्तीय जानकारी मुहैया करवानी होती है.’’

परामर्श में कहा गया है कि ऐसे साइबर हमलावरों के पास 20 लाख लोगों के ईमेल आईडी हो सकते हैं और वे ईमेल भेजने की योजना बना रहे हैं जिनमें विषय की जगह लिखा हो सकता है – दिल्ली, मुंबई, हैदराबाद, चेन्नई और अहमदाबाद में सभी नागरिकों के लिए कोविड-19 की जांच मुफ्त

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. AcceptRead More