Hamara Today
Hindi & Punjabi Newspaper

78 फ़ीसदी पेरेंट्स बोले- स्कूल न खुलें, हमें बच्चों का साल बर्बाद होने की परवाह नहीं

0

school kab khulenge mp, School

school kab khulenge mp, School

नई दिल्ली: कोरोना वायरस (Corona Virus) के कारण जारी लॉकडाउन (Lockdown) आने वाले समय में पूरी तरह खोल दिया जाएगा, लेकिन इसके बावजूद 78 फीसदी भारतीय पेरेंट्स अपने बच्चों को स्कूल भेजने के पक्ष में नहीं हैं. एक सर्वे में इसका खुलासा हुआ. एडटेक स्टार्टअप एसपी रोबोटिक वर्क्‍स द्वारा 3600 पेरेंट्स और इतनी ही संख्या में बच्चों पर देश के प्रमुख शहरों में कराए गए सर्वे से पता चला है कि बेंगलुरू, मुम्बई, हैदराबाद और कई मिनी मेट्रो शहरों में माता-पिता कोरोना के रिस्क के कारण अपने बच्चों को लॉकडाउन खुलने के बाद भी स्कूल नहीं भेजना चाहते.

सर्वे से पता चला है कि करीब 50 फीसदी बच्चों की सोनी की आदत पूरी तरह बदल चुकी है जबकि सिर्फ 13 फीसदी की स्लीप पैटर्न नियमित है. सर्वे के मुताबिक 67 फीसदी पैरेंट्स मानते हैं कि उनके बच्चों का स्क्रीन टाइम बढ़ गया है. साथ ही इसमें यह भी पता चला है कि लगभग 40 फीसदी बच्चे एक तरह की एंक्जाइटी इश्यू से प्रभावित हैं. इसी सर्वे के मुताबिक 7-10 साल की आयु के 10 फीसदी बच्चे आंतेप्योनॉर बनना चाहते हैं जबकि 16-17 साल की उम्र तक यह प्रतिशत 17 तक पहुंच जाता है

school kab khulenge 2020

बता दें कि लॉकडाउन के बाद से ही स्कूल बंद हैं. कोरोना वायरस के चलते अब तक स्कूल नहीं खोले गए हैं. देश में कई चीज़ें खुल गई हैं, लेकिन कोरोना के खतरे को देखते हुए शिक्षण संस्थान बंद रखे गए हैं. जबकि बच्चों की पढ़ाई का बहुत नुकसान हो रहा है

school kab khulenge mp, School News khulenge in rajasthan, school kab khulenge uttarakhand, school kab khulenge 2020, up school kab khulenge, bharat mein school kab khulenge, school college kab khulenge, school kab khulenge mp,

Latest News

ब्रेकिंग  न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें.

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. AcceptRead More