Hamara Today
Hindi & Punjabi Newspaper

बाबा रामदेव की पतंजलि आईपीएल की स्पॉन्सरशिप के लिए लगा सकती है बोली

0

Baba Ramdev News : लद्दाख में चीन के साथ सीमा विवाद के बाद देश में चीन के बढ़ते विरोध के बीच चीनी मोबाइल कंपनी वीवो इस साल के लिए आईपीएल के टाइटल स्पॉन्सर से हट गयी है. इसके बाद योग गुरु बाबा रामदेव की कंपनी पंतजलि भी इस दौड़ में शामिल हो गई है. पतंजलि की ओर से इस बात की पुष्टि भी कर दी गयी है. क्रिकेट के नए फॉर्मेट इंडियन प्रीमियर लीग के टाइटल स्पॉन्सर की दौड़ में पतंजलि के साथ एक और कंपनी का नाम सामने आ रहा है.

Baba Ramdev पंतजलि आयुर्वेद के प्रवक्ता एस के तिजारावाला ने इकनॉमिक टाइम्स से बात करते हुए यह कहा है. तिजारावाला ने कहा, “हम इस साल आईपीएल की टाइटल स्पॉन्सरशिप के बारे में सोच रहे हैं. हम पतंजलि ब्रांड को वैश्विक मंच पर ले जाना चाहते हैं और इसके लिए बेहतरीन विकल्प साबित हो सकता है.” उन्होंने यह भी कहा कि वह भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड को इसके लिए एक प्रस्ताव भेजने की तैयारी कर रहे हैं. बाजार के जानकारों के मुताबिक पतंजलि पिछले कुछ समय में एक बेहतरीन राष्ट्रवादी ब्रांड बन कर उभरा है. आईपीएल के टाइटल स्पॉन्सरशिप की जगह ले लेने से चीन के विरोध का मैसेज मजबूती से दिया जा सकता है.

bab ramdev Pantjali Ipl

वास्तव में अब तक (Baba Ramdev) पतंजलि एक बहुराष्ट्रीय कंपनी के रूप में खुद को साबित नहीं कर पाई है और आईपीएल की टाइटल स्पॉन्सरशिप से उसे यूनिकॉर्न ब्रांड बनने में मदद मिल सकती है. ब्रांड की रणनीति बनाने वाले हरीश बिजूर ने इस बारे में कहा, “पतंजलि अगर आईपीएल की टाइटल स्पॉन्सर से लेती है तो यह आईपीएल से ज्यादा पतंजलि के लिए फायदे का सौदा साबित हो सकता है. पतंजलि के इस कदम से जहां ब्रांड के बीच कास्ट हाइरार्की जैसी चीजों से निपटने में मदद मिलेगी, वहीं पतंजलि के स्पॉन्सरशिप लेने से राष्ट्रवादी सोच की धारणा भी पुष्ट हो सकती है. देश में अभी चीन के विरोध का मामला गर्म है और इससे पतंजलि को काफी फायदा हो सकता है.”

ये भी पढ़े : राशन की दुकानों में काम करने वालों का होगा कोरोना टेस्ट, केन्द्र ने राज्यों को दिये निर्देश

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें  फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें.

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. AcceptRead More