Hamara Today
Hindi & Punjabi Newspaper

Corona Vaccine: कोरोना के खिलाफ जंग में बड़ी सफलता, देश में 5 जगहों पर होगा Vaccine का फाइनल ट्रायल

0

ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका द्वारा विकसित कोविड-19 के टीके के तीसरे और मानव पर अंतिम चरण के परीक्षण के लिए देश भर में पांच स्थानों पर तैयारी पूरी

Corona Vaccine: ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी द्वारा विकसित कोरोना वायरस की वैक्सीन का भारत में अंतिम चरण का ट्रायल शुरू होने वाला है. इस के लिए पांच जगहों का चुनाव किया गया है. इस बारे में डिपार्टमेंट ऑफ बायोटेक की सचिव रेणु स्वरूप ने बताया कि ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका द्वारा विकसित कोविड-19 के टीके के तीसरे और मानव पर अंतिम चरण के परीक्षण के लिए देश भर में पांच स्थानों पर तैयारी पूरी कर ली गई है. Also Read – सही समय पर बैंक लोन के भुगतान पर मिलेगी सब्सिडी जानिए कैसे

स्वरूप ने कहा कि यह एक आवश्यक कदम है क्योंकि भारतीयों को टीका लगाने से पहले देश के भीतर आंकड़े उपलब्ध होना आवश्यक है. ऑक्सफोर्ड और इसके साझेदार एस्ट्राजेनेका ने टीके के तैयार हो जाने के बाद विश्व के सबसे बड़े टीका निर्माता ‘द सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया’ (सीआईआई) को इसके उत्पादन के लिए चुना है. पहले दो चरणों के परीक्षण नतीजे इस महीने की शुरुआत में ही प्रकाशित हुए थे. 
Also Read अब सिर्फ 36 मिनट में मिलेगी कोरोना टेस्‍ट रिपोर्ट साइंटिस्‍टों ने खोजी तकनीकी

स्वरूप के मुताबिक, डीबीटी भारत में किसी भी कोविड-19 टीके के लिये किये जाने वाले प्रयासों का हिस्सा है, ‘चाहे वह आर्थिक सहायता हो, चाहे विनियामक मंजूरी की सुविधा हो अथवा उन्हें देश के भीतर मौजूद विभिन्न नेटवर्क तक पहुंच प्रदान करना हो.’

उन्होंने पीटीआई-भाषा से एक साक्षात्कार में कहा, ‘ अब डीबीटी तीसरे चरण के लिये क्लीनिकल स्थल तैयार कर रहा है. हमने इस पर पहले ही काम शुरू कर दिया है और तीसरे चरण के परीक्षण के लिए पांच स्थान उपयोग के लिए तैयार हैं.’ Corona Vaccine पुणे स्थित सीआईआई ने संभावित टीके के दूसरे और तीसरे चरण के मानव पर क्लीनिकल परीक्षण के संचालन के लिए भारतीय औषधि नियामक से अनुमति मांगी है.

Corona Vaccine
Corona Vaccine

डीबीटी सचिव ने कहा, ‘ डीबीटी प्रत्येक निर्माता के साथ काम कर रहा है और सीरम (संस्थान) का तीसरा परीक्षण महत्वपूर्ण है क्योंकि अगर टीका सफलत होता है और यह भारत के लोगों को दिया जाएगा तो हमारे पास देश के भीतर के आंकड़े उपलब्ध होने चाहिए.’

उन्होंने कहा, ‘ इसके लिए तीसरे चरण का परीक्षण प्रस्तावित किया गया है. पांच स्थल तैयार हैं. ये निर्माताओं के लिए तैयार होने चाहिए ताकि वे क्लीनिकल परीक्षण के वास्ते इनका उपयोग कर सकें.’ इससे पहले, 20 जुलाई को वैज्ञानिकों ने घोषणा की थी कि ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय द्वारा विकसित Corona Vaccine टीका सुरक्षित जान पड़ता है और परीक्षण के दौरान इसके कारगर नतीजे सामने आए.

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें  फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें.

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. AcceptRead More