Hamara Today
Hindi & Punjabi Newspaper

Coronavirus Cases in India: सितंबर महीना कोरोना महामारी के लिए सबसे बुरा महीना, टूटे सारे रिकॉर्ड

0

Coronavirus Cases in India : सितंबर महीना कोरोना महामारी के लिए सबसे बुरा महीना रहा है. क्योंकि इसी महीने में सबसे ज्यादा मौते हुईं और इसी महीने में सबसे ज्यादा रिकॉर्ड स्तर पर कोरोना के मामले सामने आए

नई दिल्ली: देश में कोरोना के आंकड़ों में अब धीरे धीरे कर गिरावट दर्ज की जा रही है. लेकिन सितंबर महीना कोरोना महामारी के लिए सबसे बुरा महीना रहा है. क्योंकि इसी महीने में सबसे ज्यादा मौते हुईं और इसी महीने में सबसे ज्यादा रिकॉर्ड स्तर पर कोरोना के मामले सामने आए. यूं कहें कि सितंबर महीने में कोरोना से हालत बद से बदतर हो गई. सितंबर महीने में ही संक्रमितों की संख्या प्रतिदिन 95 हजार के उपर रही थी. कई बार तो यह मामले 98 हजार प्रतिदिन भी हुए. वहीं 1200 से अधिक लोगों की प्रतिदिन मौत दर्ज की गई थी.

अगर सितंबर महीने में संक्रमण के आंकड़ों की बात करें तो अबतक देश में कुल 61,45,291 कोरोना संक्रमण के मामले सामने आ चुके हैं. इसमें से अकेले 25,24,046 मामले सितंबर महीने के हैं. यानी की संक्रमण के ग्राफ में 69.70% की बढ़ोत्तरी देखने को मिली है. इस दौरान देश में औसतन रोजाना 8,036 कोरोना के मामले सामने आ रहे थे. इसी समय संक्रमण के मामले में भारत ने ब्राजील व अन्य देशों को पछाड़ा और महामारी से प्रभावित होने वाले अमेरिका के बाद दूसरा पायदान भारत का ही था. इस महीने भारत में महामारी ने पूरी दुनिया के रिकॉर्ड तोड़े और एक दिन 97,894 कोरोना संक्रमण के मामले भी देखने को मिले थे

अगर सितंबर महीने में महामारी से हुए मौत पर नजर दौड़ाएं त अबतक कुल 96,318 लोगों की कोरोना संक्रमण से मौत हो चुकी है, इसमें से अकेले 31,849 लोगों की मौत सितंबर महीने में हुई है. सितंबर महीने में यह आंकड़ा 49.40 प्रतिशत तक बढ़ा. इस महीने में केवल दो दिन ऐसे थे जब 1000 से कम लोगों की मौत हुई. अन्यथा बाकी दिन 1000 के पार ही लोगों की मौत हुई. अगर औसतन मौत की बात करें तो 1098 लोगों की मौत औसतन है

Coronavirus Cases in India : हालांकि इस महीने टेस्टिंग के आंकड़ों में भी वृद्धि की गई थी. देश में अबतक कुल 7,31,10,041 लोगों की कोरोना टेस्टिंग हो चुकी है. इसमें से 3,07,33,667 कोविड की टेस्टिंग सितंबर महीने में ही की गई है. यानी सितंबर महीने में कोरोना की टेस्टिंग में 72 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी देखने को मिली. अगर औसतन टेस्टिंग की बात करें तो 10,59,782 लोगों की प्रतिदिन टेस्टिंग की गई.

Hamara Today न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें.

Leave A Reply

Your email address will not be published.