Hamara Today
Hindi & Punjabi Newspaper

तमिलनाडु में चुनाव से पहले कांग्रेस को झटका! Kushboo Sundar ने पार्टी से दिया इस्तीफा- BJP में हो सकती हैं शामिल

0

तमिलनाडु में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव (Tamil Nadu Polls) से पहले कांग्रेस को झटका लगा है. अभिनेत्री से राजनेता बनी खुशबू सुंदर (Kushboo Sundar) ने कांग्रेस (Congress) पार्टी से इस्तीफा दे दिया है.

तमिलनाडु में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव (Tamil Nadu Polls) से पहले कांग्रेस को झटका लगा है. अभिनेत्री से राजनेता बनी खुशबू सुंदर (Kushboo Sundar) ने कांग्रेस (Congress) पार्टी से इस्तीफा दे दिया है. उनके BJP में शामिल होने की अटकलें लग रही हैं. पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) को भेजे इस्तीफे में खुशबू ने आरोप लगाया है कि उन्हें ‘दबाया’ जा रहा है. सोनिया गांधी को भेजे अपने इस्तीफे में उन्होंने लिखा, ‘कुछ लोगों को पार्टी के भीतर एक उच्च पद पर बैठाया गया है, जिनको जमीनी हकीकत से कोई वास्ता नहीं है. मेरे जैसे लोग जो ईमानदारी से पार्टी के लिए काम करना चाहते थे, लेकि ‘दबाया’ जा रहा है. रिपोर्ट्स की मानें तो वह भारतीय जनता पार्टी ज्वाइन करने वाली हैं. बता दें कि वह 2014 से ही कांग्रेस में थीं.

इससे पहले आज ही अभिनेत्री खुशबू सुंदर के भाजपा में शामिल होने की अटकलों के बीच कांग्रेस ने उन्हें अपने राष्ट्रीय प्रवक्ता के पद से हटा दिया. पार्टी के राष्ट्रीय सचिव (मीडिया) प्रणव झा की ओर से जारी बयान के मुताबिक खुशबू सुंदर को प्रवक्ता पद से तत्काल प्रभाव से हटाया जाता है. दक्षिण भारतीय फिल्मों की अभिनेत्री खुशबू 2014 में कांग्रेस में शामिल होने से पहले द्रमुक में थीं. कांग्रेस सूत्रों का दावा है कि 2019 के लोकसभा चुनाव में टिकट नहीं मिलने के बाद से वह नाराज चल रही थीं.

हाल के दिनों में वह कुछ मुद्दों पर कांग्रेस के आधिकारिक रुख से अलग राय जाहिर कर रही थीं. कुछ महीने पहले उन्होंने पार्टी के रुख से इतर नई शिक्षा नीति का समर्थन किया था.

बता दें कि खुशबू इससे पहले भी कई पार्टियों से जुड़ी रही हैं. वह 2010 में DMK में शामिल हुई थीं, जब DMK सत्ता में थी. हालांकि, चार साल बाद उन्होंने DMK छोड़ दी. उसी वर्ष 2014 में वह सोनिया गांधी से मिलने के बाद कांग्रेस में शामिल हो गईं. लेकिन खुशबू सुंदर को 2019 के लोकसभा चुनावों के लिए टिकट नहीं दिया गया था. जबकि राज्य में डीएमके-कांग्रेस गठबंधन ने बड़ी जीत दर्ज की थी. न ही उन्हें राज्यसभा के लिए चुना गया. इससे वह पार्टी से नाराज चल रही थीं.

खुशबू सुंदर राज्य में काफी लोकप्रिय रही हैं. तमिलनाडु में आठ महीने दूर राज्य के चुनावों के साथ, राज्य में अपनी सीमित पहुंच के साथ भाजपा खुशबू सुंदर की ‘स्टार पावर’ को आजमाना चाहेगी. BJP के पास अभी तक राज्य में कोई करिश्माई नेता नहीं है.

(इनपुट: भाषा से Also)

Hamara Today न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें.

Leave A Reply

Your email address will not be published.