Hamara Today
Hindi & Punjabi Newspaper

भारत में संक्रमण के मामले बढ़ने से , कई शहरों में लग सकता है लॉकडाउन

0

Lockdown may occur in many cities :
देश में जहां कोरोना वायरस संक्रमण के मामले 8.5 लाख के करीब पहुंच गए हैं वहीं आने वाले दिनों में बेंगलुरु और पुणे समेत कई शहरों के अधिकारी अलग-अलग अवधियों के लिए लॉकडाउन पुन: लागू करने की तैयारी कर रहे हैं। उधर राजधानी दिल्ली में स्थिति में कुछ सुधार दिखाई दिया है। उत्तर प्रदेश सरकार ने सप्ताहांतों में शनिवार, रविवार को पूरे राज्य में कड़ी पाबंदियां लागू करने का फैसला किया है। इससे पहले कर्नाटक और तमिलनाडु ने रविवार का लॉकडाउन लगा रखा है।

Lockdown may occur in many cities

असम, अरुणाचल प्रदेश, मेघालय और बिहार जैसे राज्यों ने अलग-अलग अवधियों में क्षेत्रवार लॉकडाउन की घोषणा की है। कर्नाटक सरकार ने बेंगलुरु में 14 जुलाई से सात दिन के लिए पूरी तरह लॉकडाउन का ऐलान किया है। तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी ने मदुरै और आसपास के क्षेत्रों में पाबंदियां 14 जुलाई तक बढ़ा दी हैं। महाराष्ट्र सरकार ने पहले ही पुणे और पिंपरी-चिंचवाड़ में 13 से 23 जुलाई तक व्यापक लॉकडाउन की घोषणा की थी। राज्य सरकार ने मुंबई के आसपास के क्षेत्रों में भी इसी तरह बंद की घोषणा की थी।

कश्मीर में भी अधिकारियों ने रविवार को लॉकडाउन के एक और चरण के सख्ती से क्रियान्वयन की शुरूआत की तथा ऐतिहासिक लाल चौक को पूरी तरह बंद कर दिया। श्रीनगर के 67 अन्य क्षेत्रों को भी बंद कर दिया गया है जिन्हें पिछले एक सप्ताह में कोविड-19 के मामले अचानक से बढ़ने के बाद निषिद्ध क्षेत्र घोषित किया गया है। हालांकि दिल्ली में खबरें कुछ सकारात्मक हैं जहां रविवार को कोविड-19 के मामलों की संख्या लगातार दूसरे दिन 2,000 से कम रही। वहीं संक्रमितों के ठीक होने की दर करीब 80 प्रतिशत होने के साथ अधिकारियों ने यहां स्टेडियमों में अस्थायी कोरोना वायरस देखभाल केंद्र बनाने की योजना अभी स्थगित कर दी है। 
Lockdown may occur in many cities
Hamara Today News

Read More : => ऐश्वर्या राय और उनकी बेटी कोरोना से संक्रमित, रिपोर्ट आई पॉजिटिव। Aishwarya Rai and her daughter Corona infected

Read More : => फर्जी कोरोना वायरस की कालाबाजारी सावधान रहे, चुकानी पड़ सकती मुँह मांगी कीमत

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. AcceptRead More