Hamara Today
Hindi & Punjabi Newspaper

डिजिटल कौशल कार्यक्रम से फायदा, ‘गूगल पे’ पर जल्द लोन सुविधा भी

0

छोटे व्यापारियों को ढूंढें, उनसे खरीदें और उनका साथ दें, ‘गूगल पे’ पर जल्द लोन सुविधा भी

वर्तमान में छोटे कारोबारी लगातार विभिन्न चुनौतियों से जूझ रहे हैं। गूगल इंडिया भी इस बात को समझ रहा है। ऐसे में Google India छोटे-मध्यम कारोबारियों के लिए ऐसे उत्पाद और समाधान ला रहा है जो उनकी डिजिटल यात्रा को बेहतर बनाएगा।

दिल्ली। आज के समय में छोटे कारोबारी लगातार विभिन्न चुनौतियों से जूझ रहे हैं। गूगल इंडिया भी इस बात को समझ रहा है। डिजिटल दुनिया का अनुभव भी कइयों के लिए अलहदा रहा है। ऐसे में हम छोटे-मध्यम कारोबारियों के लिए ऐसे उत्पाद और समाधान ला रहे हैं, जो उनकी डिजिटल यात्रा को बेहतर बनाएंगे। हम ऑनलाइन दुनिया तक कारोबारियों की पहुंच बनाने, ऑनलाइन ग्राहकों को उन तक पहुंचाने और कारोबार को मजबूती देने के लिए उन्हें मार्केटिंग के गुर सिखाने में मदद कर रहे हैं। हमारे पास ऐसे कारोबारियों के लिए कई सारे उत्पाद और समाधान हैं। ऐसी ही एक नई पेशकश ‘गूगल पे फॉर बिजनेस’ ऐप पर मिलने वाले लोन की है, जो जल्द ही सामने आएगी।

‘गूगल पे’ पर जल्द लोन सुविधा भी

हमने पाया है कि डिजिटल तकनीक का इस्तेमाल करने वाले भारतीय छोटे-मझोले कारोबारी (SMBs), ऑफलाइन एसएमबी की तुलना में दोगुने तक अधिक लाभ कमा रहे हैं। वे ऑफलाइन छोटे-मझोले कारोबारी की तुलना में पांच गुना तक अधिक लोगों को नौकरी दे रहे हैं। छोटे कारोबारों के लिए गूगल के सारे संसाधन एक जगह उपलब्ध हों, इसके लिए हमने ‘ग्रो विद गूगल स्मॉल बिजनेस हब’ पेश किया है। इसके तहत एक स्थान पर ही गूगल के सारे टूल्स और उत्पादों तक पहुंच संभव है। यहां पर मदद के लिए ‘क्विक हेल्प वीडियो’ और डिजिटल कौशल सीखने के लिए सपोर्ट पेज मौजूद हैं। हमें यह बताते हुए गर्व हो रहा है कि ‘डिजिटल अनलॉक्ड’ प्रोग्राम के तहत भारत में 12 लाख से अधिक कारोबारियों को डिजिटल कौशल कार्यक्रम से फायदा मिला है। 

‘गूगल पे फॉर बिजनेस’ ऐप रोजाना लाखों कारोबारियों को अपने ग्राहकों से डिजिटल भुगतान हासिल करने में मदद कर रहा है। हम अपनी सहयोगी वित्तीय संस्थाओं से बात कर रहे हैं कि कारोबारियों को लोन मुहैया कराया जाए। यह लोन ‘गूगल पे फॉर बिजनेस’ ऐप के जरिए भी लिया जा सकेगा। हम इस ऑफर को जल्द ही लाइव करने वाले हैं।

‘गूगल पे’ पर जल्द लोन सुविधा भी

बीते कुछ सालों में हमने देखा है कि है कि एक बार जो छोटे-मझोले कारोबारी डिजिटल के लाभ हासिल करने लगते हैं, वो इसे छोड़ना नहीं चाहते। वे बिजनेस बढ़ाने के लिए लगातार नए तरीकों की तलाश में नजर आते हैं। हमें छोटे-मझोले कारोबारियों से काफी प्रेरक और जबर्दस्त प्रतिक्रियाएं मिली हैं। इनमें से कुछ के बारे में हम आपको यहां भी बता रहे हैं।

उदाहरण के लिए भोपाल में एक राजू टी स्टॉल है। इसके लिए 4000 से अधिक ऑनलाइन समीक्षाएं हैं और इसकी रेटिंग 4.2 है। एक छोटी चाय दुकान के लिए ये बड़ी बात है। इसकी लोकप्रियता का आलम ये है कि यहां करीना कपूर खान, दीपिका पादुकोण, नवाजुद्दीन सिद्दीकी, राहुल गांधी और आरबीआई गवर्नर जैसी हस्तियां आ चुके हैं। 

37 साल पहले एक छोटे-से गांव में ‘सितारा फूड्स’ शुरू किया गया था। अभी श्रव्य और उनके पति श्रीकांत इसकी देखरेख कर रहे हैं। जबसे श्रीकांत ने गूगल विज्ञापन के मॉडल को अपनाया, उन्होंने पीछे मुड़कर नहीं देखा। मौजूदा समय में उन्हें 80 से 90 फीसदी कारोबार गूगल विज्ञापनों की मदद से मिलता है। चार लोगों से शुरू हुई इस कंपनी में अब 50 लोगों की टीम है। 

इसी तरह चन्नापट्टना के खिलौना निर्माता ‘भारत आर्ट्स एंड क्राफ्ट्स’ अपनी बिक्री बढ़ाने को लेकर चिंतित थे। आज उनके जीएमबी पेज पर 170 से अधिक समीक्षाएं हैं और उनकी ऑनलाइन रेटिंग 4.6 है। भारत आर्ट्स एंड क्राफ्ट्स के मालिक जीएमबी पेज पर फोटो और पोस्टों की मदद से लगातार अपने ग्राहकों के साथ जुड़े रहते हैं।

Hamara Today न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें.

Leave A Reply

Your email address will not be published.