Hamara Today
Hindi & Punjabi Newspaper

आपातकाल की 45वीं बरसी: PM मोदी, अमित शाह समेत कई नेताओं ने ट्वीट कर कही ये बात

0

ट्वीट कर बोले PM मोदी – लोकतंत्र की रक्षा के लिए संघर्ष करने वालों को मेरा शत-शत नमन! उनका त्याग और बलिदान देश कभी नहीं भूल पाएगा.

आज से ठीक 45 साल पहले 25 जून 1975 को देश में आपातकाल का ऐलान किया गया था. यह दिन इतिहास में एक काले अध्याय के रूप में दर्ज है. आपातकाल के 45वीं बरसी पर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) , गृह मंत्री अमित शाह समेत कई नेताओं ने ट्वीट किया है. पीएम मोदी ने ट्वीट करते हुए कहा है कि उस समय भारत के लोकतंत्र की रक्षा के लिए जिन लोगों ने संघर्ष किया, यातनाएं झेलीं, उन सबको मेरा शत-शत नमन! इससे पहले गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि 45 साल पहले सत्ता के लिए एक परिवार के लालच ने आपातकाल लागू कर दिया. PM Modi Amit Shah yogi adityanath tweet on 45th Anniversary of Emergency

पीएम मोदी बोले- 45 वर्ष पहले देश पर आपातकाल थोपा गया :पीएम मोदी ने ट्वीट करते हुए लिखा, ‘आज से ठीक 45 वर्ष पहले देश पर आपातकाल थोपा गया था. उस समय भारत के लोकतंत्र की रक्षा के लिए जिन लोगों ने संघर्ष किया, यातनाएं झेलीं, उन सबको मेरा शत-शत नमन! उनका त्याग और बलिदान देश कभी नहीं भूल पाएगा.’

अमित शाह ने कहा- एक परिवार के लालच ने आपातकाल लागू किया :गृह मंत्री अमित शाह ने देश में आपातकाल लगाए जाने की 45वीं बरसी पर चार ट्वीट्स किए. अमित शाह ने कहा- ‘आज के दिन 45 साल पहले सत्ता के लिए एक परिवार के लालच ने आपातकाल लागू कर दिया. रातों रात राष्ट्र को जेल में बदल दिया गया. प्रेस, अदालतें, अभिव्यक्ति की आजादी … सब खत्म हो गए. गरीबों और दलितों पर अत्याचार किए गए.’

गृह मंत्री ने लिखा- ‘लाखों लोगों के प्रयासों के कारण आपातकाल हटाया गया. भारत में लोकतंत्र बहाल हो गया लेकिन कांग्रेस में आज भी लोकतंत्र नहीं है. एक परिवार के हित पार्टी के हितों और राष्ट्रीय हितों पर हावी हैं. यह दुखद है कि ऐसी स्थिति आज की कांग्रेस में पनप रही है.’ PM Modi Amit Shah yogi adityanath tweet on 45th Anniversary of Emergency

योगी आदित्यनाथ ने बताया सबसे काला दिन :देश में लगे आपातकाल को 45 साल पूरे हो गए हैं। इसे लेकर भाजपा कांग्रेस पर हमलावर हो गई है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट करते हुए कहा कि ‘आज भारत के इतिहास का सबसे काला दिन है। एक परिवार की राजनीतिक लिप्सा ने 1975 में आज के दिन ही लोकतांत्रिक मूल्यों का गला घोंट, ‘आपातकाल’ थोप कर माँ भारती को बेड़ियों में जकड़ दिया था। महामानवों को नमन,जिनके बलिदान ने माँ भारती को गौरव भूषित किया।’

इनेलो नेता अभय चौटाला ने ये कहा :इनेलो नेता अभय चौटाला ने प्रेस कांफ्रेस के दौरान कहा 45 साल पहले कांग्रेस राज था, इंदिरा गांधी प्रधानमंत्री थीं। कोर्ट का एक फैसला उनके खिलाफ आया बावजूद इसके उन्होंने आपातकाल लगा दिया और लोगों को जेल में डाल दिया था। उन्होंने आगे कहा इमरजेंसी के दौरानम जेल में रहे लोगों से बात करने पर पता चलता है कि राजनीतिक लोगों को जेलों में कितनी यातनाएं दी जाती थीं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. AcceptRead More