Hamara Today
Hindi & Punjabi Newspaper

अब बेटी की शादी की नहीं होगी चिंता, मिलेंगे एकमुश्त 64 लाख रुपये

0

आज की महंगाई और कोरोना वायरस के कारण अर्थव्यवस्था को मिल रहे झटके के दौर में अपनी बेटी के भविष्य को भी वित्तीय रूप से सुरक्षित बनाना सबके लिए बेहद जरूरी है. इस बीच हम आपको एक ऐसी स्कीम बताने जा रहे हैं, जिससे आपको अपनी बेटी की शादी की चिंता नहीं होगी. बेटी की शादी की उम्र में आपको एकमुश्त 64 लाख रुपये का फायदा होगा.

बेटी का भविष्य संवारने के लिए केंद्र की मोदी सरकार ने सुकन्या समृद्धि योजना शुरू की है. इस योजना में निवेश कर अपनी बेटी की उच्च शिक्षा के साथ-साथ शादी के खर्चों को भी आप आसानी से पूरा कर सकते हैं. योजना में बेटी के 21 साल पूरे होने 64 लाख रुपये का रिटर्न पाया जा सकता है. इस स्कीम में 15 सालों तक निवेश कर सकते हैं.

इस तरह करें निवेश
सुकन्या समृद्धि योजना में खाता खोलने के लिए सरकार ने पात्रता मानदंडों में कुछ छूट दी है. इसके तहत 31 जुलाई, 2020 को अथवा उससे पहले अपनी उन बेटियों के नाम से खाता खोल सकते हैं, जिनकी उम्र 25 मार्च, 2020 से 30 जून, 2020 तक 10 वर्ष पूरी हो चुकी है. उन बेटियों के पेरेंट्स को इस छूट से मदद मिलेगी जो लॉकडाउन के कारण सुकन्या समृद्धि खाता नहीं खोल पाए थे.

कितना जमा कर सकते हैं पैसा
सुकन्या समृद्धि योजना में एक वित्तीय वर्ष के दौरान अधिकतम 1.5 लाख रुपये जमा कर सकते हैं. एक वित्तीय वर्ष में कम से कम आपको 250 रुपये जमा करना अनिवार्य है. यानि किसी एक अकाउंट में आप एक वित्तीय वर्ष में अधिक से अधिक 1.5 लाख रुपये तथा कम से कम 250 रुपये तक जमा कर सकते हैं.

यदि आपने गलती से सुकन्या समृद्धि खाते में एक 1.5 लाख रुपये से ज्यादा जमा कर दिया है तो यह रकम ब्याज के लिए नहीं कैलकुलेट होगी. इस रकम को डिपॉजिटर्स के खाते में रिटर्न कर दिया जाएगा. स्कीम के अनुसार, इस खाते में 15 साल तक जमा किया जा सकता है. 15 साल की अवधि के दौरान इसे कभी भी रेग्युलराइज किया जा सकता है. हर साल के हिसाब से इसके लिए आपको 50 रुपये की पेनाल्टी देनी होगी.

इतना मिल रहा है ब्याज
सुकन्या समृद्धि योजना में वर्तमान में 7.6 फीसदी की दर से ब्याज सरकार दे रही है. खाता खुलवाते समय जो ब्याज दर रहती है, उसी के हिसाब से पूरे निवेश काल के दौरान ब्याज प्राप्त होता है. पोस्‍ट ऑफिस सेविंग अकाउंट समेत सभी स्‍मॉल सेविंग स्‍कीम में जुलाई-सितंबर तिमाही के लिए मिलने वाले ब्‍याज की दरों में कोई सरकार ने कोई बदलाव नहीं किया है.

मिलेंगे एकमुश्त 64 लाख रुपये
अगर हर वित्तीय वर्ष में 1.5 लाख रुपये 15 साल तक जमा किया तो आपके द्वारा जमा किया गया कुल रकम 22 लाख 50 हजार रुपये होता है. इस पर 41 लाख 36 हजार 543 रुपए ब्याज बनेगा. हालांकि, यह अकाउंट 21 साल पूरे होने के बाद ही मैच्योर होगा. 21 साल तक ब्याज के साथ बढ़कर यह रकम करीब 64 लाख रुपए होगी.

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. AcceptRead More