Hamara Today
Hindi & Punjabi Newspaper

मनोज्ञान – ‘Study, Career, Target, Business, Marriage, Family, Children, Leadership…..!’ केके

0

28 October 2020 Today’s Motivation | inspirational quotes in hindi , inspirational quotes | positive quotes | Today’s Motivation | success quotes | Manogayan KK | मनोज्ञान

Manogayan KK Hindi, inspirational quotes, 28 October 2020 positive quotes: आज हम आपको Today’s Motivation quotes ‘मनोज्ञान , success quotes बताने वाले हैं।

एक व्यक्ति तैरना चाहता था। वह तालाब पर गया। पानी में उतरा। उसका पैर फिसल गया। वह डूबने लगा। चिल्लाया। एक साधु वहीं किनारे बैठा था। उसने डूबते हुए व्यक्ति की बाँह पकड़ उसे किनारे पर खींच लिया। व्यक्ति की जान बच गई। साधु ने उसे उपदेश दिया, “जब तक तैरना न सीख जाओ तब तक पानी में मत उतरना।” भला कोई उस साधु से पूछे कि जब तक कोई पानी में नहीं उतरेगा। तब तक तैरना सीखेगा कैसे? दुनिया में ज़्यादातर उपदेशक (Speakers) इसी तरह आधारहीन उपदेश दिया करते हैं। जीवन में उन्हें उतारना संभव ही नहीं होता क्योंकि वे अव्यावहारिक (Impractical) होते हैं।

अगर उपदेशक भी उपदेश देने से पहले उसकी व्यावहारिकता पर एक पल सोच लें तो उन्हें ये बात अच्छे से समझ आ जाये कि ऐसे अव्यावहारिक सुझाव या सलाह (Impractical Suggestions or Advice) हर एक मन पर कारगर (Effective) नहीं होते। वो ये नहीं सोचते कि हर एक मन के अलग-अलग व्यावहारिक अनुभव (Practical Experiences), बीता हुआ कल (History) और पृष्ठभूमि (Background) होते हैं। और इस तरह जब हर एक मन अलग है तो फिर एक ही बात हर एक मन को कैसे बदल सकती है। हाँ, मानव मन के कुछ सामान्य सिद्धान्त (Basic Rules) होते हैं जो हर एक मन पर लागू होते हैं परन्तु विशिष्ट सिद्धान्त (Specific Rules) हर एक मन के लिए अलग-अलग होते हैं। और इसीलिए किसी भी मन को बदलने के लिए ज़रूरी विशिष्ट व्यवहारिक नियम हर एक मन के लिए अलग-अलग होंगे।

‘रचनात्मक दृष्टिकोण अथवा भाव केके’ (Creative Spirit KK) हर एक मन में उस रचनात्मक व्यावहारिकता (Creative Practicality) को देखता है जो उस मन के लिए न केवल अलग होती है बल्कि वह उसे आसानी से अपनाकर अपने जीवन की हर एक समस्या का रचनात्मक ढंग से सर्वहितकारी समाधान निकाल अपनी और अपने से जुड़े लोगों की ज़िन्दगी को संवार सकता है। हर एक मन को ‘Study, Career, Target, Business, Marriage, Family, Children, Leadership से सम्बंधित अलग-अलग तरह की चुनौतियों का सामना करना पड़ता है जिनसे केवल अलग-अलग रचनात्मक तरीको से ही लड़कर पार पाया जा सकता है।

ये ही वजह है कि ‘रचनात्मक दृष्टिकोण अथवा भाव केके’ (Creative Spirit KK) मन के उन रचनात्मक पहलुओं (Creative Dimensions) की रचना पर विश्वास करता है जो इस विश्व के किसी भी मन की दिशा और दशा को बदल सकती है। और इसीलिए पिछले कई सालों से हर एक मन के साथ व्यक्तिगत रूप से मेहनत कर यह अनुभव किया गया कि किसी भी मन में केवल और केवल ‘रचनात्मक दृष्टिकोण अथवा भाव’ (Creative Spirit) पैदा करके ही उसे बदला जा सकता है जिससे कि वो किसी भी तरह की चुनौतीयों का सामना कर जो चाहे हासिल कर सके।

केके
WhatsApp @ 9667575858

Hamara Today न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें.

Leave A Reply

Your email address will not be published.