Hamara Today
Hindi & Punjabi Newspaper

सुशांत सिंह राजपूत की हत्या नहीं, आत्महत्या : एम्स

0

नयी दिल्ली : एम्स के मेडिकल बोर्ड ने अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की हत्या की आशंका को खारिज करते हुए इसे ‘फंदे से लटक कर खुदकुशी’ करने का मामला बताया है। एम्स के फॉरेंसिक विभाग के प्रमुख डॉ. सुधीर गुप्ता ने शनिवार को इस बारे में बताया।

सीबीआई को अपनी समग्र चिकित्सा-कानूनी राय में फॉरेंसिक डॉक्टरों की छह सदस्यीय टीम ने ‘जहर दिए जाने और गला दबाकर’ राजपूत की हत्या की आशंका को खारिज किया है। फॉरेंसिक मेडिकल बोर्ड के अध्यक्ष डॉ. गुप्ता ने कहा, ‘यह फंदे से लटक कर खुदकुशी से हुई मौत का मामला है। हमने सीबीआई को अपनी समग्र रिपोर्ट सौंप दी है।’ फंदे के निशान के अलावा शव पर किसी तरह के जख्म के निशान नहीं थे।

हाथापाई और प्रतिरोध के भी किसी तरह के निशान नहीं मिले। हालांकि उन्होंने मामले में अदालती सुनवाई का हवाला देते हुए आगे कुछ भी बताने से इनकार किया। राजपूत (34) मुंबई के उपनगर बांद्रा में अपने अपार्टमेंट में 14 जून को मृत पाए गए थे। अभिनेता के पिता केके सिंह ने राजपूत की दोस्त रिया चक्रवर्ती और उनके परिवार के खिलाफ खुदकुशी के लिए कथित तौर पर उकसाने का मामला पटना में दर्ज कराया था। बाद में सीबीआई ने मामले में जांच शुरू की। इस सप्ताह की शुरुआत में केंद्रीय जांच एजेंसी ने कहा था कि वह राजपूत की मौत के मामले में किसी निष्कर्ष पर नहीं पहुंची और सभी पहलुओं की जांच की जा रही है।

सुशांत मामले की जांच रिपोर्ट सार्वजनिक करे सीबीआई : देशमुख

नागपुर : महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने शनिवार को कहा कि सीबीआई को जल्द ही अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले की जांच रिपोर्ट सार्वजनिक करनी चाहिए ताकि लोग जान सकें कि वह आत्महत्या थी या हत्या। संवाददाताओं से बातचीत में मंत्री ने कहा कि महाराष्ट्र सरकार मामले की सीबीआई जांच रिपोर्ट का इंतजार कर रही है। सुशांत सिंह राजपूत की मौत की वजह आत्महत्या थी, न कि हत्या संबंधी रिपोर्ट को लेकर पूछे गए सवाल पर देशमुख ने कहा, ‘हमें इस संबंध में कोई आधिकारिक सूचना नहीं मिली है। जब तक आधिकरिक रूप से सूचना नहीं मिल जाती, इस बारे में टिप्पणी करना उचित नहीं है।’

Hamara Today न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें.

Leave A Reply

Your email address will not be published.