Hamara Today
Hindi & Punjabi Newspaper

होटल मालिक का 2 साल का बेटा लुधियाना पुलिस ने मोगा से सुरक्षित बरामद किया

0

लुधियाना पुलिस ने मंगलवार बाद दोपहर यहां शहीद भगत सिंह नगर से एक होटल मालिक के अपहृत 2 वर्षीय बेटे विनम्र को 20 घंटे के अंदर न केवल सुरक्षित बरामद कर लिया बल्कि एक अपहरणकर्ता को भी गिरफ्तार कर लिया। पुलिस आयुक्त राकेश अग्रवाल ने बताया कि अपहरण का मास्टरमाइंड कोई और न होकर होटल मालिक पंकज गुप्ता का पारिवारिक कार का ड्राइवर ही निकला। उन्होंने बताया कि वह रोजमर्रा की तरह मंगलवार को बच्चे को घुमाने के बहाने लेकर गया था लेकिन बाद में उसे लेकर फरार हो गया।

मासूम के परिवार के सदस्यों को उस समय अपहरण का पता चला जब देर शाम उनके कार चालक हरिंदर पाल सिंह के मोबाइल फोन से कॉल आयी कि उनके बेटे का अपहरण हो गया है। अपहरणकर्ता ने 4 करोड़ रुपये की फिरौती मांगते हुए धमकी दी कि यदि इस बारे में पुलिस को सूचित किया तो उसकी तुरंत हत्या कर दी जायेगी। पुलिस आयुक्त ने बताया कि विनम्र के अभिभावकों ने किसी प्रकार अपहरण की सूचना पुलिस को दी।

सूचना मिलते ही पुलिस हरकत में आई और पंजाब पुलिस के महानिदेशक दिनकर गुप्ता को सूचित किया गया। अलर्ट घोषित होने से अपहरणकर्ताओं पर पुलिस दबाव बनाने में सफल हो गई। सफेद रंग की स्विफ्ट डिजायर कार, जिसमें बच्चे का अपहरण किया गया था, को पुलिस ने मोगा की ओर गांवों से जाने वाले एक रास्ते से बरामद कर लिया। मोगा पुलिस के सहयोग से अपहृत बच्चे को आज तड़के मोगा के डगरू रेल फाटक के निकट एक पोलो कार में बरामद कर लिया।

फिरौती की धमकी सहित 4 फोन आये

संवाददाता सम्मेलन में उपस्थित विनम्र की मां मुक्ता गुप्ता ने बताया कि उसे कल चार करोड़ की फिरौती की धमकी सहित 4 बार फोन आये। उन्होंने पुलिस का आभार जताते हुए कहा कि उनकी सारी रात गम्भीर चिंता में कटी, सुबह उस समय उन्हें राहत मिली जब मोगा से पुलिस का फोन आया कि विनम्र सुरक्षित मिल गया है। बाद में पुलिस ने बच्चे से बात भी करवाई।

परिवार को ड्राइवर था पूरा भरोसा

पुलिस आयुक्त ने बताया कि कार चालक लगभग दो साल से ड्राइवर था और सभी परिवार वालों को उस पर पूरा भरोसा था। गिरफ्तार किये गये गिरोह के सदस्य का नाम रछपाल सिंह है और वह जीरा के निकट मल्लूवाल गांव का पूर्व सरपंच और इसी गिरोह के एक अन्य सदस्य लाल सिंह का भाई है। अन्य अपहरणकर्ता अभी फरार हैं उनकी पहचान हरिंदर पाल सिंह, लाल सिंह और सुखदेव सिंह के रूप में हुई है। ड्राइवर हरिंदर पाल सिंह पर पंजाब के विभिन्न थानों में पहले ही अपहरण के एक मामले सहित कई गम्भीर अपराधिक मामले दर्ज हैं।

Hamara Today न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें.

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. AcceptRead More