Hamara Today
Hindi & Punjabi Newspaper

Delhi chalo kisan March: अमरिंदर सिंह का किसानों को संदेश- गृहमंत्री का बयान स्वागत योग्य कदम उनकी बात मान लें

0

Delhi chalo kisan March : पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने शनिवार को प्रदर्शनकारी किसानों से आग्रह किया कि वे केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के इशारे पर एक निर्धारित स्थान पर शिफ्ट होने की अपील स्वीकार कर लें, इस प्रकार उनके मुद्दों को हल करने के लिए जल्द वार्ता का मार्ग प्रशस्त होगा.

Delhi chalo kisan March :
अमरिंदर सिंह ने किसानों के साथ जल्द से जल्द विचार-विमर्श करने की शाह की पेशकश पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि यह बड़े पैमाने पर किसान समुदाय और राष्ट्र के हित में है.मुख्यमंत्री ने कहा कि किसानों की बात सुनने की केंद्र की इच्छा को दर्शाता शाह का बयान एक स्वागत योग्य कदम है, कृषि कानूनों के मुद्दे पर मौजूदा गतिरोध का एकमात्र समाधान चर्चा है.

Delhi chalo kisan March :
अमरिंदर सिंह का यह बयान केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह द्वारा शनिवार को किसानों से यह अपील करने के बाद आया है कि वे (किसान) विरोध प्रदर्शन करने के लिए राष्ट्रीय राजधानी के बुराड़ी मैदान में चले जाएं. साथ ही गृह मंत्री ने यह भी कहा था कि किसानों के निर्धारित स्थल पर जाते ही केंद्र सरकार उनके साथ बातचीत करने के लिए तैयार है

Delhi chalo kisan March :
गृहमंत्री ने स्पष्ट किया है कि भारत सरकार किसानों की हर समस्या और मांग पर विचार करने के लिए तैयार है, मगर किसानों को उनके विरोध प्रदर्शन के लिए दिल्ली में निर्धारित स्थल बुराड़ी के निरंकारी मैदान में शिफ्ट होने के बाद ही वार्ता होगी.

शाह ने अपनी अपील में कहा, ‘‘पिछले कुछ दिनों से, पंजाब और हरियाणा तथा देश के कुछ अन्य हिस्सों के किसान दिल्ली की सीमा पर आए हुए हैं. किसान कल से ही दिल्ली की सीमा के पास दो प्रमुख राजमार्गों पर इकट्ठा हो गए हैं. किसानों को भारी ठंड के कारण काफी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है. अन्य लोगों को भी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है.’’

Delhi chalo kisan March :
उन्होंने कहा, ‘‘इसलिए, हमारे किसान भाइयों से मेरी विनम्र अपील है कि सरकार ने दिल्ली के बुराड़ी में आपके लिए उचित व्यवस्था की है, जहाँ आप अपना प्रदर्शन कर सकते हैं.’’ शाह ने कहा कि किसानों के एक प्रतिनिधिमंडल को उनकी समस्याओं पर विस्तृत बातचीत के लिए केंद्र सरकार की ओर से 3 दिसंबर को आमंत्रित किया गया है.

Delhi chalo kisan March :
उन्होंने कहा, ‘‘कुछ किसान यूनियनों और किसानों ने मांग की है कि वार्ता तीन दिसंबर के बजाय तुरंत आयोजित की जाए. इसलिए, मैं सभी को विश्वास दिलाता हूं कि जैसे ही आप मैदान में (बुराड़ी) पहुंचेंगे, केंद्र सरकार आपके साथ चर्चा के लिए तैयार है.’’

Hamara Today न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें.

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. AcceptRead More