Hamara Today
Hindi & Punjabi Newspaper

Punjab Lockdown Update: लॉकडाउन जैसी पाबंदियां, पंजाब में 10 जून तक बढ़ाई गईं

0

Punjab Lockdown Update: लॉकडाउन जैसी पाबंदियां, पंजाब में 10 जून तक बढ़ाई गईं, COVID-19 restrictions extended up to June 10
मुख्यमंत्री कार्यालय की तरफ से जारी नोट के अनुसार, पंजाब में कोरोना से जुड़े प्रतिबंध को 10 जून तक बढ़ा दिया गया है, लेकिन इससे साथ-साथ कुछ जगहों पर ढील भी दी गई है. सीएओ की तरफ से जारी बयान के मुताबिक कोरोनो के रोजाना आने वाले मामलों और एक्टिव केस में कमी की वजह से निजी वाहनों में यात्रियों की संख्या की सीमा को हटाने का आदेश दिया गया है

पंजाब में बुधवार को कोरोना संक्रमण के 4,004 नए मामले सामने आए और इस दौरान 185 मरीजों की मौत हो गई. राज्य में संक्रमितों का आकंड़ा बढ़कर 5,52,235 हो गया और अब तक 13,827 लोगों की जान जा चुकी है. राज्य में फिलहाल 50,549 एक्टिव मामले हैं और 4,87,859 लोग इलाज के बाद ठीक हो चुके हैं.

उधर, मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने अधिकारियों को कोविड-19 महामारी के खिलाफ लड़ाई में सहयोग के लिए गांव में युवाओं के समूह बनाने के निर्देश दिए. मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड-19 की दूसरी लहर से गांव बुरी तरह प्रभावित हुए हैं और ‘कोरोना मुक्त पिंड’ के लिए एक मजबूत अभियान चलाने की आवश्यकता है. उन्होंने खेल और युवा मामलों के विभाग और उपायुक्तों को महामारी से लड़ाई में मदद के लिए प्रत्येक गांव या नगर निगम वार्ड में सात ग्रामीण कोरोना स्वयंसेवकों (आरसीवी) के समूह तत्काल बनाने के निर्देश दिए.

उन्होंने कहा कि ये समूह कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में पंचायतों और नगर निगमों के लिए शक्तिशाली सहयोग तंत्र के रूप में काम कर सकते हैं. एक सरकारी बयान के अनुसार, वीडियो कांफ्रेंस के जरिए ग्रामीण और शहरी इलाकों के युवाओं से बातचीत करते हुए सिंह ने कहा कि लोगों के सहयोग के कारण राज्य में संक्रमण के रोज आने वाले मामले करीब 9,000 से तीन हफ्तों में 4,000 तक आ गए हैं. मुख्यमंत्री ने आरसीवी को गरीबों तथा बुजुर्गों की देखभाल करने तथा उन्हें कोविड नियंत्रण कक्षों और हेल्पलाइनों से जोड़ने, सभी गांवों में ‘ठीकरी पहरा’ देने, कोविड-19 के अनुकूल व्यवहार करने के लिए प्रेरित करने, पर्याप्त स्वास्थ्य देखभाल सुविधा पहुंचाने में गांवों की मदद करने तथा नीम हकीमों से इलाज कराने से रोकने का जिम्मा सौंपा.

उन्होंने स्टेरॉयड के अत्यधिक इस्तेमाल के कारण ब्लैक/व्हाइट फंगस फैलने के मद्देनजर आरसीवी से कोविड-19 के इलाज के लिए उचित प्रोटोकॉल का पालन करने पर ग्रामीण इलाकों में लोगों के बीच जागरूकता फैलाने का भी अनुरोध किया. मुख्यमंत्री ने यह भी घोषणा की कि गुरुवार से युवा मामलों के विभाग ने एक लाख बैज और कार पर लगाने वाले चार लाख स्टिकर बांटने शुरू कर दिए हैं जिन पर संदेश लिखा है, ‘मैंने टीका लगवा लिया है.’ इस अभियान में भागीदारी के इनाम स्वरूप प्रत्येक आरसीवी को 12 अगस्त को अंतरराष्ट्रीय युवा दिवस पर एक खेल किट दी जाएगी.

Input ANI

Hamara Today न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें.

Leave A Reply

Your email address will not be published.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. AcceptRead More